Blogs

कलाम तुझे सलाम

abdul-kalam-passed-away

सपने सिर्फ सपने नहीं होते ,

सपने सिर्फ सपनो के लिए नहीं होते,

सपनो से पहचान होती है,

सपने ही जीवन का ज्ञान होती है |

 

सपने देखना , सपने दिखलाना ,

और; सपनो को पूरा करने का अभिमान सिखलाना ,

अपने सपनो के लिए मर मिटना ,

सपनो के लिए ही ज़िंदा हो जाना |

 

सपनो से ही सपने बुनना ,

अपने सपनो से ही, दुसरो को सपने दिखलाना ,

और अंत में सपने दे कर,

खुद सपना बन जाना  |

 

तुमने मुझे है , ये सब सिखलाया ,

तुमने मुझे , ये सब बतलाया ,

तुमने मुझे ,करना, मरना,मिटना, और फिर जी जाना बतलाया |

 

लविदा , मुझे सपने दिखलाने वाले ,

अलविदा , मुझे सपनो में जीना सिखलाने वाले ,

अलविदा,  सपना बन जाने वाले,

अलविदा कलाम,

कलाम तुझे सलाम !!

 

27-1438013198-abdulkalam

© Abhishek Yadav 2015

image source www.google.co.in

5 thoughts on “कलाम तुझे सलाम

I am waiting for your feedback -

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s