Hindi

आबाद हो जाओ

आबाद हो जाओ....

अच्छा किया जो तुमने मुझे अकेला छोड़ दिया,बीच राह , बिन बात तोड़ दिया |

और छोड़ दिया मुझे मेरे फटे हाल, और चले गए अपनी मज़िल की चाल |

अच्छा किया , जो तुम ने ऐसा किया |

ऐसा न करती , क्या मै जानता की ज़िन्दगी क्या होती है ?

जब लोग अपनी राह चाल जाते है, आप पीछे छूट जाते है ,

कोई नहीं होता काफिले में, बस आप रह जाते है |

सारे अपने,आगे या पीछे रह जाते है |

छोड़ जाते है आप को अपने हाल , जियो या मरो,

आप का साया आप से रूठ जाता है,

अपने कंकाल में आप फ़स कर रह जाते है |

अपनी धङकनो को आप ही सुन पाते है ,

और फिर आप ,आप और आप ही रह जाते है |

अगर तुम मेरे साथ होती तो, मै ये इल्म न जान पाता,

और अपनी ज़िन्दगी फर्श पर कैसे ला पाता |

आज अपनी बेबसी पर कुछ इस तरह न फूला समाता |

जाओ , अब आबाद हो जाओ , किसी और की ज़िन्दगी को बर्बाद कर के आओ, किसी और को मुझ जैसा बनाओ |

शायद वे भी , मेरी तरह ज़िन्दगी जीना सिख जायेगा , और तुम्हारी बर्बादी के गीत गुनगुनायेगा |

जाओ ज़िन्दगी फिर से आबाद हो जाओ |

tumblr_static_8vul3tbqr4kcw8c00ooooccog

© Abhishek Yadav 2015

Images source www.google.co.in

One thought on “आबाद हो जाओ

I am waiting for your feedback -

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s